इंस्टाग्राम पर मिली लड़की को होटल में चोदा – masstatus.com

इंस्टाग्राम पर मिली लड़की को होटल में चोदा

हॉट गर्ल होटल फक कहानी में मैंने एक कुंवारी लड़की को इन्स्टाग्राम पर दोस्त बनाया, उसकी अन्तर्वासना को जगाया, फिर हम दोनों ने होटल में जाकर चुदाई का मजा लिया पूरे दिन.

नमस्कार दोस्तो, मैं तन्मय दिल्ली का रहने वाला हूँ.
मेरी हाईट 5 फुट 5 इंच की है, मैं दिखने में हैंडसम और मस्कुलर हूँ.

मैं इंस्टाग्राम पर बहुत एक्टिव हूं. बहुत सारी लड़कियों से बात करता हूँ.

यह हॉट गर्ल होटल फक कहानी करीब दो साल पहले की है.

ऐसे ही इंस्टाग्राम पर बात करते करते मुझे एक लड़की मिली.
मैं किसी भी लड़की को ऐसे ही मैसेज कर देता हूँ.
तो उधर से भी रिप्लाई आया और हमारी घंटों बात हुई.

मुझे उसके साथ बात करने पर पता चला कि वह मुझसे 5 साल बड़ी है.
आगे बढ़ने से पहले मैं आपको उसका फिगर बता देता हूँ.

वह दिखने में गोरी, एक गाल पर तिल, फिगर 32-28-34 और नाम पूर्णिमा.
उस दिन हमारी काफी बात हुई. फिर ऐसे ही चलते रहने के बाद हमने एक दूसरे के नंबर ले लिए.

एक दिन मैंने उसको एक वयस्क चुटकुला भेज दिया तो वह भी पढ़ कर हंसने लगी.
हमारे बीच का सिलसिला कुछ दिन में काफी खुलने लगा था.

एक दिन मैंने उससे पूछा- क्या तुम पोर्न देखती हो?
उसने बोला- हां कभी कभी देख लेती हूँ. क्यों पूछ रहे हो?

मैंने कहा- बस ऐसे ही मन हुआ कि तुमसे पूछूँ कि क्या तुम्हें सेक्स मूवी देखना पसंद है?
वो बोली- हां, पर देख कर बहुत वैसा सा लगने लगता है.

मैंने कहा- कैसा सा लगने लगता है?
उसने हंस कर लिखा- अन्दर से पानी बहने लगता है.

मैंने कहा- फिर?
वो बोली- फिर क्या?

मैंने कहा- फिर तुम कुछ करती हो?
वह बोली- उंगली से कुछ कर लेती हूँ.

इस तरह से हम दोनों ने सेक्स चैट करना शुरू कर दी थी.

मैं अब उसको मैसेज और चैट में ही चोदने लगा था.

एक दिन बहुत देर तक चैट के बाद मैंने उसकी अपने लंड की पिक्चर भेजी.

वह मेरे लौड़े की फ़ोटो देख कर बोली- यार, इतना बड़ा और मोटा?
मैंने कहा- हां तुम क्या कहती हो … क्या ये तुम्हारी चूत में नहीं जा पाएगा?
वह बोली- तुम देख कर बताओ.

अब उसने भी अपनी चूचियों और चूत की फोटो भेज दी.
मैंने कहा- चूत तो बंद बंद सी दिख रही है.

वह हंस कर बोली- हां, अभी सील पैक है.
मैंने कहा- तो कभी आओ हवेली पर … सील का उद्घाटन कर देते हैं.

उसको भी सेक्सी बातें करने में मजा आ रहा था और मुझको भी.
नंगी फोटो देखने के बाद हमने एक दूसरे को वीडियो कॉल की और झड़ गए.

हम दोनों कॉल काट कर सोने चले गए.

फिर 14 फरवरी का दिन आया.
वो वैलेंटाइन डे होता है.
उस दिन हम दोनों ने मिलने का प्लान बनाया.

मैंने उससे कहा- लाल रंग की ब्रा और पैंटी पहन कर आना.
उस दिन हम पहली बार मिले थे.

आप मानो या ना मानो लड़कियां फोन से ज्यादा सामने से अच्छी लगती हैं.

वह उस दिन काले रंग का स्लीव लैस वन पीस पहन कर आई थी और काले रंग के नेट वाले स्टॉकिंग्स.

वह उस दिन बहुत ही सेक्सी लग रही थी.

मैं खुले आम उसके बूब्स और होंठों को टच करने लगा था जिससे वह भी शर्मा रही थी.

मिलने के बाद हम दोनों यूं ही चहल कदमी करते हुए टहलने लगे.
टहलने के साथ साथ हमारी प्यार मुहब्बत की बातें भी चल रही थीं.

हम दोनों थोड़ी देर तक दिल्ली हाट वाले एरिया में घूमते रहे, फिर वहीं पास के एक होटल में चले गए.
हमने काउंटर पर आईडी दी और रूम में चले गए.

रूम के अन्दर जाते ही उसको मैंने अपनी तरफ खींचा और उसके होंठों को चूसने लगी.

उसके लाल लाल होंठों की लिपस्टिक मेरे होंठों पर लग गई थी.

फिर मैंने उसको दरवाजे से लगाकर चिपका दिया और उसका पर्स बेड पर फेंक दिया.
अपने दोनों हाथों से उसके दोनों हाथों को पकड़ लिया और गर्दन पर किस करने लगा.

वह भी गर्म होती जा रही थी.
आज वह भी चुदने का मन बनाकर आई थी.

बीच बीच में एक दो बार उसने यह कहा भी था कि जल्दी क्या है, सब कुछ तसल्ली से करेंगे.
वही सब सुनकर मैंने होटल में चलने का कहा था तो वह झट से राजी हो गई थी.

यूं ही उसे सटाए हुए मैंने अपना एक हाथ उसकी चूची पर रखा और दूसरा उसकी गर्दन के नीचे रख दिया.
एक हाथ से में उसकी चूची दबा रहा था और दूसरी तरफ अपने मुँह को उसके मुँह से लगा कर उसके रसभरे होंठ चूस रहा था.

होंठों को चूसते समय ही उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में ठेल दी, जिसे मैंने किसी लेमनचूस की तरह से चूसना चालू कर दिया था.
कुछ देर बाद मैंने उसको अपनी गोदी में उठाया और बेड पर लेटा दिया.

उसके लेटते ही मैंने उसे धक्का देकर औंधा कर दिया और उसकी ड्रेस की पीठ की तरफ से चैन खोलने लगा.
चेन एक झटके में खुलती चली गई और उसकी लाल रंग की ब्रा की पट्टी दिखने लगी.

मैंने उसके एक कंधे से ड्रेस नीचे सरका दी और उसके नग्न होते बदन को चूमने लगा.

उसे चूमते चूमते में नीचे गर्दन पर आया और उसे पलटा कर ड्रेस के ऊपर से ही उसके स्तन को काटने लगा.

साथ ही मैं अपने एक हाथ से चूत को सहलाने लगा.
वह मुस्कुराने लगी थी.

हॉट गर्ल होटल फक का खेल शुरू हो चुका था.

उसने आंखों से इशारा किया तो मैंने अपने पैर की मदद से उसकी हील्स निकाल कर नीचे गिरा दीं.

मैंने धीरे धीरे उसकी ड्रेस उतारनी शुरू कर दी और उसके पूरे बदन को चूमने लगा.

रूम में एसी होने के बाबजूद हम दोनों को पसीना आ रहा था.

मैंने उसकी ड्रेस निकाली तो देखा कि वह लाल रंग की ब्रा पैंटी पहन कर ही आई थी.
मैं तो मानो खुशी से पागल हो गया और उसको चूमने लगा.

वह बोली- क्या ऐसा होता है कि एक के कपड़े उतार दिए जाएं और दूसरा कपड़े पहन कर ही प्यार करे?
मैं समझ गया और झट से उसके ऊपर से उठ कर अपने कपड़े खोलने लगा.

वह मेरे बॉक्सर को देख कर आंखें नचाने लगी.
उसका भाव था कि इसे भी खोल दो.

मैंने अपने बॉक्सर को भी हटा दिया और अपने टनटनाते हुए लंड को बाहर निकाल कर उसके हाथों में दिया.

वह तो मानो कब से मेरा लंड देखने के लिए उत्सुक थी.
उसने झट से लौड़े को अपने कोमल हाथों से सहलाया और मेरी आंखों से आंखें मिलाकर शरारत से देखने लगी.

मैं होंठों को चुंबन के जैसे बनाया और उसको चूमने का इशारा किया.

उसने झट से मेरे लंड पर अपनी जीभ फेर कर उसे चाट लिया और लंड के प्रीकम का स्वाद लेने लगी.

अगले कुछ ही सेकंड में मेरा लंड उसके मुँह की गर्मी को महसूस कर रहा था.
वह मजे से लंड चूस रही थी.

कुछ देर बाद हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए थे.
उसकी चूत पर से मैंने उसकी पैंटी हटाई तो वह पूरी गीली हो चुकी थी.

हम दोनों ने एक दूसरे के लंड चूत को चूसना शुरू कर दिया था.

वह मादक सिसकारियां ले रही थी और मैं भी आह आह कर रहा था.

अब मैंने उसको सीधा कर दिया और उसके बगल में लेट गया.
वह मेरी तरफ देखने लगी.

मैंने उसको अपने ऊपर आने को कहा और वह झट से लौड़े पर सवार हो गई.

उसकी ब्रा अभी भी चूचियों पर चढ़ी थी.
मैंने ब्रा को नीचे सरका कर चूचियां नंगी कर दीं और बारी बारी से दोनों दूध चूसने लगा.

फिर मैंने उसके बाल खोल दिए.
कुछ ही देर बाद लंड ने चूत में घुसने का उपक्रम शुरू किया.

उसकी चूत पहली बार चुद रही थी तो दर्द होना लाजिमी था.

कुछ देर तक वह मेरे लंड पर मस्ती से आगे पीछे होती रही थी.
लंड अन्दर नहीं गया था.

उसकी चूचियों के निप्पल भी टाइट हो गए थे.
मैंने दोनों हाथों से उसकी चूचियां पकड़ कर उसके दोनों निप्पल एक साथ मींज दिए.
वह चीख पड़ी- आ आह.

अब मैंने उसको अपने नीचे कर लिया और उसकी लटकी हुई ब्रा भी निकाल दी.

उसको एक चूची पर दो तिल थे जो उसको और भी खूबसूरत बना रहे थे.

ब्रा हटाने के बाद मैंने दोनों मम्मों को अपने हाथों में लेकर मसलने लगा.

बीच बीच में किसी एक को काट देता तो दूसरे को रबर की बॉल की तरह मसल देता, जिससे उसकी आह निकल जाती.
वह ‘आ उई उउह मर गई …’ की आवाज निकाल रही थी.

मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रखे और अपना लंड उसकी चूत में आगे पीछे करते हुए ऊपर से रगड़ने लगा.

वह बार बार कह रही थी- अब रहा नही जाता यार, पेल दो … क्यों तड़पा रहा है?

मैंने उसके ऊपर आकर उसकी नाभि पर चूमा और अपना लौड़ा उसके दोनों चूचों के बीच में रख कर चूची चोदने लगा.

मेरा लौड़ा उसके मुँह तक जा रहा था और वह अपनी जुबान से मेरे लौड़े को मुँह में ले रही थी, अपने दोनों हाथों से अपने चूचे दबा रही थी.

थोड़ी देर यह सब करने के बाद मैं चूत पर आया और लौड़े पर थूक लगा कर एक झटके में अपना आधा लंड उसके अन्दर डाल दिया.

वह चिल्ला उठी और दूर होने लगी.
मैंने उसको बताया- पहली बार में ऐसा होता है.

किसी तरह से मैं लौड़े को चूत के अन्दर पेल कर उसके ऊपर लेट गया.

थोड़ी देर में मुझको पता चल गया कि उसका दर्द कम हो गया.
फिर मैं उठा और एक झटके में पूरा लंड अन्दर डाल दिया.

पूरा लंड अन्दर डालते ही वह दर्द से कसमसाने लगी.
मैंने अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए.
वह ‘आह आह आ आई ऊह उई.’ की सिसकारियां ले रही थी.

मैंने उसकी चूत में देखा तो उसमें से खून निकल रहा था.
मेरा लंड अन्दर ही था तो मैंने उसको धीरे धीरे झटके देना शुरू किया.

उसका दर्द अब कम हो रहा था तो उसको भी मजा आने लगा.

मैंने अपना लंड निकाल कर उसको दिखाया.
उसने देखा कि उस पर खून लगा हुआ है.

मैंने टिश्यू से अपना लंड साफ किया और उससे चूसने को बोला.

उसने पूरा लंड चूस कर गीला कर दिया.
मैंने फिर से उसकी चूत चोदना शुरू किया तो उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया.

कुछ देर बाद मैंने उससे कहा कि मेरा भी पानी छूटने वाला है, क्या करना है?
उसने कहा- जैसी तेरी मर्जी.

मैंने अपना पानी उसके अन्दर ही छोड़ दिया.
उसके बाद हम दोनों ने ऐसे ही एक बार और सेक्स किया.

चुदाई के बाद हम दोनों शॉवर में जाकर नहाये.
शॉवर में जाकर मैंने उसकी एक टांग को दीवार पर रखा और अपना लंड उसकी चूत में पेल कर चोदा.

हम दोनों ने एक दूसरे को बहुत देर तक चोदा. बाथरूम में तीसरी चुदाई के दौरान हम दोनों ने बहुत मस्ती की. बार बार लंड चूत की चुसाई की और बार बार हम दोनों चुदाई करने लगते थे.

बाद हम दोनों ने थोड़ी देर आराम किया और सो गए.

फिर उसकी भाभी का कॉल आने के बाद वह चली गई.

Leave a Comment

x